कोरोना के कारण ठप हुई अर्थव्यवस्था को गति पहुंचाने के लिए आज प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के सालाना कार्यक्रम को संबोधित किया!! इस संबोधन में उन्होंने कहा कि सरकार जनता के साथ है !! आप लोग एक कदम आगे बढ़ाइए सरकार चार कदम आगे बढ़ाएगी !!

अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लाने के लिए केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत की पहल की है जिसमें उन्होंने 5-i का मोदी मंत्र का ऐलान किया है! इनमें Intent, Inclusion, Investment, Infrastructure और Innovation शामिल हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने इस बात का भी जिक्र किया कि उन्होंने एमएसएमई (माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज) की नई परिभाषा बना दी है उन्होंने एनपीए में तब्दील दो लाख एमएसएमई को उबारने के लिए 20,000 करोड रुपए के अतिरिक्त फंड को मंजूरी दी है !! साथ ही किसानों की रोजी रोटी का इंतजाम भी सुनिश्चित करने के लिए 14 खरीफ फसलों को बड़े न्यूनतम समर्थन मूल्य की सौगात दी है!! साथ ही किसान कहीं भी कभी भी अपनी फसल को बेच सकता है

पीएम ने कहा कि अर्थव्यवस्था को फिर से मजबूत करना सरकार की प्राथमिकता है, इसके लिए सरकार कई तरह के फैसले ले रही है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 74 करोड़ लोगों के घर तक राशन पहुंचाया गया, प्रवासी श्रमिकों के लिए मुफ्त राशन दिया जा रहा है. अबतक गरीब परिवारों को 53 हजार करोड़ रुपये उनके खाते में दी जा चुकी है.

एक समय में एक काम करो, और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमे डाल दो और बाकी सब कुछ भूल जाओ ”Swami Vivekananda

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here