कोरोना महामारी और बाढ़ जैसी प्राकृतिक विभीषिका के मद्देनजर जबकि इस वर्ष बिहार में विधानसभा चुनाव होने हैं ऐसे में बाढ़ को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस बार की आपदा को एक एक राजनीतिक मुहिम देने के लिए बाढ़ पीड़ित प्रत्येक घर के लिए ₹6000 देने की घोषणा की है जो उनके पूर्ववर्ती 2008  के चुनाव की रणनीतियों को दोहराता है।

इसे घोषणा से जहां नीतीश कुमार ने बिहार की जनता के प्रति अपनी सहानुभूति प्रदर्शित की है और सरकारी सहायता प्रदान की है वही एक और उन क्षेत्रों में कोरोना के प्रति सरकार की प्राथमिकता को दोहराने की भी कोशिश है।

विपक्षी पार्टियां जहां इस सहायता को कम बता रहे हैं वहीं सरकार और सरकार की सहयोगी पार्टियां इसे नीतीश कुमार का प्राथमिक और मानव  अनुकूल कदम बताते हुए सराहनीय प्रयास बताया है

निश्चित ही बाढ़ पीड़ित क्षेत्र की जनता के लिए यह सहयोग उस समय आया जब उन्हें इसकी सर्वाधिक आवश्यकता है और यह अपेक्षा की सरकार उनके साथ खड़ी रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here