पूरा देश कोरोनावायरस के कारण लॉकडाउन है लॉकडाउन के कारण पूरे देश में आर्थिक महामंदी आने के आसार भी लगाए जा रहे हैं इस लॉकडाउन के कारण मजदूर लोगों से उनका काम भी छिन गया है कई लोगों की तो नौकरियां भी चली गई है । किसी को नहीं मालूम है कि लॉकडाउन खुलने के बाद उन्हें दोबारा से वही नौकरी मिलेगी भी या नहीं लोग परेशान हैं और इस परेशानी का सबब कोरोना वायरस दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

इसी बीच हरियाणा से एक बड़ी खबर आई है।जी हां हरियाणा सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए कहा है कि हरियाणा में नए कर्मचारियों की भर्ती पर एक साल के लिए रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही हरियाणा सरकार ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को एलटीसी की सुविधा भी बंद कर दी है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने यह ऐलान खुद किया है।

हम आपको बता दें कि मुख्यमंत्री ने सोमवार को एक बयान दिया था जिसमें उन्होंने इसके पीछे का कारण बताते हुए कहा है कि कोरोना संकट के कारण सरकार खर्चों में कटौती कर रही है। कर्मचारियों को एलटीसी भी नहीं मिलेगा और डीए व इसके एरियर पर भी रोक लगा दी गई है।

इस पूरे फैसले के बाद सभी विपक्षी दल इसकी निंदा कर रहें हैं साथ ही इस फैसले को वापस लेने की मांग भी उठ रही है।विपक्षी नेता मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के इस फैसले को  तुगलकी फरमान भी कहा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here