देश में कोरोना के कारण अब 10वीं और 12वीं क्लास के बोर्ड एग्जाम की कॉपियों का मूल्यांकन शिक्षक अपने घरों पर करेंगे।जी हां केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने खुद इस बात की जानकारी दी है जिसके बाद उन्होंने बताया कि 3,000 स्कूलों को एग्जाम सेंटर्स के तौर पर चिह्नित किया गया है जहां से उनको कॉपियां डिलिवर की जाएंगी।

उन्होंने बताया कि पहले हो चुकी 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं की 1.5 करोड़ उत्तरपुस्तिकाएं शिक्षकों को डिलिवर की जाएंगी।

साथ ही हम आपको बता दें कि सीबीएसई बोर्ड ने सभी बची हुई परीक्षाओं की तारीख का ऐलान भी कर दिया है। ये परीक्षाएं 1 से 15 जुलाई, 2020 के बीच होंगी।आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि कुल 29 विषयों की अब परीक्षा होगी। उसमें से 6 विषय की परीक्षा उत्तर पूर्वी दिल्ली में 10वीं क्लास के छात्रों के लिए होगी। लेकिन यहां ध्यान रहे कि 10वीं क्लास की परीक्षा सिर्फ दिल्ली के उत्तर पूर्वी इलाकों में होगी क्योंकि वहां दंगे की वजह से छात्र परीक्षा नहीं दे पाए थे।

वहीं 12वीं क्लास की परीक्षा पूरे देश के छात्रों के लिए होगी। वैसे देश के बाकी हिस्सों में 12वीं क्लास के सिर्फ 12 मुख्य विषयों की परीक्षा होगी लेकिन दिल्ली के उत्तर पूर्वी क्षेत्रों में उन 12 मुख्य विषयों के अलावा 11 और मुख्य विषयों की परीक्षा होगी। 12वीं क्लास की परीक्षा देश भर में लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुई थी।

कोरोना के कारण विद्यार्थियों को काफी नुकसान झेलना पड रहा है।सरकार लगातार कोशिश कर रही है कि इन बच्चों को घरो पर ही ऑनलाइन क्लास दी जाए ताकि बच्चों की पढ़ाई को कोई नुकसान न पहुंचे। साथ ही लॉकडाउन के कारण कई अन्य परीक्षाएं भी स्थागित की गई थी जिनकी एग्जाम डेट भी अब आ गई है इसमे जेईई मेन, अडवांस्ड और नीट शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here